भारत सरकार ने ट्विटर से 2021 की पहली छमाही में 2,200 खातों पर डेटा मांगा

भारत सरकार ने ट्विटर से 2021 की पहली छमाही में 2,200 खातों पर डेटा मांगा

नई दिल्ली।  भारत सरकार ने ट्विटर से जनवरी-जून 2021 की अवधि में 2,200 उपयोगकर्ता खातों पर डेटा मांगा और माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म ने केवल 2 प्रतिशत अनुरोधों का अनुपालन किया। कंपनी की लेटेस्ट ट्रांसपेरेंसी रिपोर्ट से पता चला है कि समीक्षाधीन अवधि में भारत से ट्विटर खातों को हटाने की लगभग 5,000 कानूनी मांगें भी थीं।

इस रिपोटिर्ंग अवधि के दौरान वैश्विक सरकारी संरक्षण अनुरोधों में 4 प्रतिशत की कमी आई, जबकि स्पेसिफाइड खातों में 24 प्रतिशत की वृद्धि हुई। अमेरिका (57 प्रतिशत) और भारत (25 प्रतिशत) ने मिलकर सभी वैश्विक संरक्षण अनुरोधों का 82 प्रतिशत हिस्सा लिया।

जब से ट्विटर ने 2012 में अपनी पारदर्शिता रिपोर्ट लाना शुरू किया है, भारत ने 11,667 उपयोगकर्ता खातों पर जानकारी का अनुरोध किया है, जो वैश्विक सूचना अनुरोधों का 10 प्रतिशत है।

अमेरिका ने सबसे अधिक सरकारी सूचना अनुरोध प्रस्तुत किए, जो वैश्विक मात्रा का 24 प्रतिशत और निर्दिष्ट वैश्विक खातों का 27 प्रतिशत है।

अनुरोधों की दूसरी सबसे बड़ी मात्रा भारत से उत्पन्न हुई, जिसमें वैश्विक सूचना अनुरोधों का 18 प्रतिशत और निर्दिष्ट वैश्विक खातों का 30 प्रतिशत शामिल है।

ट्विटर ने कहा कि उसने वैश्विक सरकारी सूचना अनुरोधों के 64 प्रतिशत, इस रिपोटिर्ंग अवधि के दौरान 9 प्रतिशत की कमी के जवाब में आंशिक रूप से जानकारी का खुलासा नहीं किया।

जब गैर-सरकारी अनुरोधों की बात आती है तो जापान, ब्राजील और अमेरिका शीर्ष तीन अनुरोध करने वाले देश थे, इन तीनों में सभी अनुरोधों का 89 प्रतिशत और इस अवधि के लिए निर्दिष्ट कुल खातों का 87 प्रतिशत हिस्सा था।

सरकारों से कानूनी मांगों के संदर्भ में, छह महीने की अवधि में, ट्विटर को 196,878 खातों को निर्दिष्ट करते हुए कंटेंट को हटाने के लिए 43,387 कानूनी मांगें मिलीं।

कंपनी ने बुधवार देर रात कहा, "2012 में हमारी पहली पारदर्शिता रिपोर्ट जारी करने के बाद से यह अब तक की सबसे बड़ी संख्या में खातों को हटाने के अनुरोधों के अधीन है।"

जनवरी-जून की अवधि में, ट्विटर को खाताधारकों को अपने नियमों का उल्लंघन करने वाले 4.7 मिलियन ट्वीट्स को हटाने की आवश्यकता थी।

हटाए गए ट्वीट्स में से 68 प्रतिशत को हटाने से पहले 100 से कम इंप्रेशन प्राप्त हुए, जबकि अतिरिक्त 24 प्रतिशत को 100 और 1,000 के बीच इंप्रेशन प्राप्त हुए।

इन छह महीनों में, ट्विटर ने अपनी बाल यौन शोषण (सीएसई) नीति के उल्लंघन के लिए 453,754 अद्वितीय खातों को स्थायी रूप से निलंबित कर दिया है।

2021 की पहली छमाही में, ट्विटर ने आतंकवाद और हिंसक संगठनों को बढ़ावा देने के लिए 44,974 अद्वितीय खातों को निलंबित कर दिया।
(आईएएनएस)

तिल मस्सों से हमेशा की मुक्ति के लिए 7 घरेलू उपाय

क्या देखा अपने: दिव्यांका त्रिपाठी का ये नया अदांज

गोपी बहू कितना ग्लैमर अवतार देखकर चौंक जाएंगे आप!